पूर्व सांसद आरके सिन्हा गाँव के गरीब परिवार के जिस लड़के को किया था मदद वह अब GoogLe के टॉप ट्रेंड में शामिल हो चूका है

पूर्व सांसद आरके सिन्हा गाँव के गरीब परिवार के जिस लड़के को किया था मदद वह अब GoogLe के टॉप ट्रेंड में शामिल हो चूका है
पूर्व सांसद आरके सिन्हा गाँव के गरीब परिवार के जिस लड़के को किया था मदद वह अब GoogLe के टॉप ट्रेंड में शामिल हो चूका है

पूर्व सांसद आरके सिन्हा गाँव के गरीब परिवार के जिस लड़के को किया था मदद वह अब GoogLe के टॉप ट्रेंड में शामिल हो चूका है, MATHEMATICS GURU लिखने पर टॉप पर बिहार के आरके श्रीवास्तव का नाम

बिहार के पूर्व सांसद आरके सिन्हा गाँव के गरीब परिवार के जिस लड़के को वर्षो पहले एक अखबार के खबर पढकर किया था मदद ,वह अब GoogLe के टॉप ट्रेंड में शामिल हो चूका है, MATHEMATICS GURU लिखने पर टॉप पर बिहार के आरके श्रीवास्तव का नाम।

GoogLe के टॉप ट्रेंड में आरके श्रीवास्तव, गूगल पर MATHEMATICS GURU लिखने पर टॉप पर बिहार के आरके श्रीवास्तव का नाम आ रहा है। गूगल के IMAGE में जाने पर आरके श्रीवास्तव के सैकङो से अधिक फोटो और न्यूज़ टॉप पर आ रहा है।

गूगल पर खूब सर्च किये जा रहे मैथमेटिक्स गुरु आरके श्रीवास्तव, जानिए क्यों,

मैथमेटिक्स गुरु फेम आरके श्रीवास्तव ने क्लासरूम प्रोग्राम में बिना रुके पाइथागोरस थ्योरम को 50 से ज्यादा अलग-अलग तरीकों से सिद्ध कर इतिहास रचा है। इसके लिए इनका नाम वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड्स लंदन में भी दर्ज हो चुका है।

सैकड़ों असहाय गरीब स्टूडेंट्स को इंजीनियर बनाकर उनके सपने को पंख लगाने वाले मैथमेटिक्स गुरु फेम आरके श्रीवास्तव ने क्लासरूम प्रोग्राम में बिना रुके पाइथागोरस थ्योरम को 50 से ज्यादा अलग-अलग तरीकों से सिद्ध कर इतिहास रचा। इसके लिए इनका नाम वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड्स लंदन में भी दर्ज हो चुका है। बिहार के रोहतास जिले के छोटे से गांव बिक्रमगंज के रहने वाले आरके श्रीवास्तव है हजारो स्टूडेंट्स के रोल मॉडल।

आरके श्रीवास्तव अपने शैक्षणिक कार्यशैली के लिए हमेशा सुर्खियों में रहते है, चाहे वह वंडर किड्स प्रोग्राम हो या स्टूडेंट्स को अग्नि के सामने शपथ दिलाकर सेल्फ स्टडी के लिए प्रेरित करना हो या इनके द्वारा चलाया जा रहा नाईट क्लासेज अभियान।

450 क्लास से अधिक बार आरके श्रीवास्तव ने पूरे रात लगातार 12 घण्टे जगकर स्टूडेंट्स को निःशुल्क शिक्षा दे चुके हैं। इसके लिए इनका नाम इंडिया बुक रिकार्ड्स में भी दर्ज हो चुका है।

निःशुल्क शिक्षा के अलावा प्रत्येक वर्ष अपनी माँ के हाथों से 50 गरीब स्टूडेंट्स को निःशुल्क किताबें भी बंटवाते हैं। गरीब परिवार में जन्मे आरके श्रीवास्तव का जीवन काफी संघर्षो से गुजरा। आरके श्रीवास्तव के द्वारा ” आर्थिक रूप से गरीबों की नही रुकेगी पढ़ाई” अभियान भी चलाया जाता है। इस अभियान के तहत स्टूडेंट्स से सिर्फ 1 रुपया गुरु दक्षिणा लेकर उसे शिक्षा दिया जाता है। प्रत्येक वर्ष सिर्फ 1 रुपया बढ़ता है गुरु दक्षिणा।

इस अभियान के तहत सैकड़ों गरीब स्टूडेंट्स आईआईटी, एनआईटी, बीसीईसीई सहित देश के अनेकों प्रतिष्टित संस्थाओ में पहुँचकर अपने सपने को लगा रहे पंख। बिहार सहित देश को गौरव दिलाने वाले आरके श्रीवास्तव के बारे में लोग गूगल पर इन दिनों खूब सर्च कर रहे।

अपनी शैक्षणिक कार्यशैली और परिश्रम से पहचान बनाने वाले मैथमेटिक्स गुरु फेम आरके श्रीवास्तव गूगल पर MATHEMATICS GURU सर्च में टॉप पर बने है। बिहार सहित देश- विदेश के लोग उनके बारे में जानने और उनके शैक्षणिक कार्यशैली को समझने को लेकर अच्‍छे-खासे सर्च कर रहे हैं। इनके शैक्षणिक कार्यशैली को जानने की लोगो मे जिज्ञाषा दिखा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *